किसान बिल के विरोध में कांग्रेस ने आयोजित की विशाल जनसभा

किसान बिल के विरोध में कांग्रेस ने आयोजित की विशाल जनसभा
बछरावां, रायबरेली-- केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली सीमा पर बैठे किसानों को समर्थन देते हुए स्थानीय कांग्रेस पार्टी द्वारा लखनऊ मार्ग पर शिवगढ़ कोठी के अंदर विशाल जनसभा का आयोजन किया गया जनसभा को संबोधित करते हुए जिला अध्यक्ष पंकज तिवारी ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लगातार पिछली सरकारों के द्वारा बनाए गए अनेकों संस्थानों को बेचने का कार्य निरंतर किया जा रहा है यहां तक की वह नवरत्न जो सरकार को लगातार धन अर्जन कर रहे थे उनको भी सरकार द्वारा अपने चंद मित्रों के हाथ बेचा जा रहा है इन संस्थानों को बेचने के बाद अब मोदी अपने मित्र अडानी और अंबानी को भारत का कृषि क्षेत्र भी सौंप देना चाहते हैं आज ढाई महीने से देश का किसान दिल्ली बॉर्डर पर पड़ा हुआ है और यह बेशर्म सरकार उसे कभी आतंकवादी कभी पाकिस्तानी कभी खालिस्तानी और तो और परजीवी तथा आंदोलन जीवी कहकर बेइज्जत कर रही है, उन्होंने कहा अगर यह कानून लागू हो गए तो देश का किसान पूरी तरह पूंजीपतियों का गुलाम हो जाएगा।
प्रदेश सचिव रमेश कुमार शुक्ला ने कहा कि मोदी सरकार इसे किसानों का हितेषी बता रही है जब कि सत्यता यह है कांटेक्ट फार्मिंग वा असीमित भंडारण केवल देश के पूजी पतियों को लाभ पहुंचाएंगे, और किसान अपनी ही जमीन पर बंधुआ मजदूर हो जाएगा इसके कई उदाहरण देश के अलग-अलग राज्यों में आ चुके हैं,
प्रदेश सचिव सुशील पासी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी किसानों के साथ पूरी तरह खड़ी हुई है उनके नेता राहुल गांधी व प्रियंका गांधी का निर्देश है कि जब तक किसानों की समस्याएं हल नहीं होती और यह तीनों कानून वापस नहीं लिए जाते तब तक कांग्रेस पार्टी संसद से लेकर सड़क तक संघर्ष करती रहेगी इस मौके पर जिला महामंत्री सदगुरुदेव लोधी विधानसभा प्रभारी अजीत सिंह सह प्रभारी मोहम्मद उमर संतोष पासी जिला उपाध्यक्ष अमर सिंह चौधरी एआईसीसी सदस्य पराग रावत ब्लॉक अध्यक्ष अवधेश चौधरी रमाकांत मिश्र ज्ञानी त्रिवेदी राजेंद्र चौधरी अविनाश बाजपेई नागेंद्र सिंह आसिया बानो सीमा सिंह माता प्रसाद कोरी सहित अन्य  कई नेताओं द्वारा  संबोधित किया गया।
संचालन नीरज अवस्थी द्वारा किया गया।

फेसबुक पेज को लाइक करना बिल्कुल न भूले