जनरेटर सुविधा होते हुए भी अंधेरे में डूबा सीएचसी महराजगंज सरकार की मंशा पर कालिख पोत रहे सीएचसी के अधीक्षक

जनरेटर सुविधा होते हुए भी अंधेरे में डूबा सीएचसी महराजगंज सरकार की मंशा पर कालिख पोत रहे सीएचसी के अधीक्षक
महराजगंज रायबरेली--सुबे की योगी सरकार अस्पतालों की व्यवस्था लाख दुरुस्त कर ले पर सीएचसी के अधीक्षक अपनी ही मनमानी करने पर आमादा है ताजा मामला सीएचसी महराजगंज का है जहां सीएचसी महराजगंज में अंधेरे में मरीजों को देखने को मजबूर डॉक्टर। बताते चलें कि सीएचसी महराजगंज में जनरेटर की व्यवस्था उपलब्ध होने के बावजूद अधीक्षक साहब की खाऊ कमाऊ नीति के चलते डॉक्टरों को लाइट चली जाने के बाद मरीजों को मोबाइल की टॉर्च की रोशनी के सहारे देखना पड़ रहा है जबकि सीएचसी परिसर में पहले से ही जनरेेटर सेवा मौजूद है। कागज पर सब कुछ लगातार चल रहा है। पर जमीनी हकीकत सच्चाई से कोसों दूर जिसकी वजह से जनरेटर चलाने में कर्मचारी भी डरते हैं। यह तस्वीरें हैं महराजगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की जिसमें आप देख सकते हैं कि डॉक्टर साहब टार्च की रोशनी के सहारे मरीजों को देख रहे हैं नाम न छापने के शर्त पर अस्पताल के एक कर्मचारी ने बताया कि कागज पर जनरेटर लगातार चल रहा है परंतु ग्राउंड पर जनरेटर ना के बराबर ही चलता है जिससे आए दिन ऐसे ही मोबाइल की टॉर्च के सहारे मरीजों को देखना पड़ रहा है परंतु अधीक्षक से यह बात कह कर दुश्मनी कौन मोल ले।अब देखने वाली बात यह होगी कि खबर छपने के बाद क्या स्वास्थ्य महकमे के आला अधिकारियों की कुंभकरणी नींद टूटती है या नहीं या फिर ऐसे ही अंधेरे में मरीजों को इलाज करवाने के लिए महराजगंज सीएचसी में मजबूर होना पड़ेगा।

फेसबुक पेज को लाइक करना बिल्कुल न भूले