हालत गांव से भी बदतर आखिर क्यों?

हालत गांव से भी बदतर आखिर क्यों?
रायबरेली/डलमऊ--शासन की मंशा है कि नगर व उसके वार्डो का समुचित विकास हो, इसके लिए मोटी रकम अवमुक्त की जाती है। हालांकि मातहतों की उदासीनता के कारण इन वार्डो का समुचित रूप से विकास नहीं हो पा रहा है। यहां की हालत गांव से बदतर है नगर में रहने वाले को नाली, सड़क, पेयजल, लाइट आदि अनेकों बुनियादी सुविधाओं से वंचित रहना पड़ रहा है।

 डलमऊ नगरपंचायत क्षेत्र के वार्ड 84 मोहल्ला का हाल कुछ ऐसा ही है यहां सड़क व नाली का निर्माण तो है लेकिन साफ सफाई नही कराई जाती है जिसकी वजह से लोगों के घरों से निकला गंदा पानी रास्ते में फैल रहा है। इससे कीचड़ हो रहा है। तैनात सफाई कर्मी नियमित नहीं आता है जिसके कारण गंदगी का अंबार लगा हुआ है। कीटनाशक का छिड़काव न होने की वजह से मच्छरों का भी प्रकोप बढ़ा हुआ है ।
https://raebareliexpress.in/en/yCVIQ
आखिर क्यों नगर पंचायत इन दिनों सुर्खियों में है क्यों नही होती साफ सफाई कोरोना जैसी वैश्विक महामारी में भी नगरपंचायत के आलाधिकारी क्यों नही देते ध्यान आखिर कब तक डलमऊ नगरपंचायत  अनदेखी करता रहेगा ।।

फेसबुक पेज को लाइक करना बिल्कुल न भूले